Email id क्या है? Email id कैसे बनाये?

नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका इस आर्टिकल में इस आर्टिकल में आप जानेगे की Email id क्या है? Email id कैसे बनाये?

जैसा की आपको पता है हमारी दुनिया धीरे धीरे डिजिटल हो रही है और लोग हर काम घर बैठे इंटरनेट से ऑनलाइन कर रहे है क्यों की जब से भारत में इंटरनेट सस्ता हुआ है तब से हर काम ऑनलाइन ही हो रहा है वो चाहे ऑनलाइन गेम हो या YouTube वीडियो देखना या कुछ और

लेकिन कुछ लोग अभी जो इनका फायदा नहीं उठा पा रहे है क्यूंकि इन सब का लाभ उठाने के लिए एक चीज की जरूरत होती है जिसका नाम Email id

मुझे उम्मीद है आप लोग Email  का नाम जरूर सुने होंगे और कुछ लोग इस्तेमाल भी करते होंगे लेकिन आप में से कुछ लोग ऐसे है जिन्हे नहीं पता की Email Id क्या है? Email Id कैसे बनाये?

 तो आज इसलिए आपके लिए यह आर्टिकल लेकर आया हु यकीन मानिये इस आर्टिकल पढ़ने के बाद आपको Email id बनाने के लिए कही जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी आप घर पर ही ऑनलाइन Email Id बना लेंगे

इस आर्टिकल में Email Id से जुड़े सारे सवालो का जबाब जानेगे आपको सिर्फ एक काम करना इस आर्टिकल को पूरा पढ़ना है तो चलिए शुरू करते है.

Email id क्या है?

Email इलेक्ट्रॉनिक डिवाइसों द्वारा जैसे कंप्यूटर या मोबाइल से इंटरनेट के जरिए संदेश भेजने-प्राप्त करने का एक साधन है.

कार्यालयों, अदालतों, स्कूलों, कॉलेजों आदि जैसे कई जगहों पर Email को सूचना भेजने तथा प्राप्त करने का एक आसान तरीका बना लिया गया है,

अगर सिंपल भाषा में बात करे तो जैसे पहले लोग किसी बात को बताने के लिए चिठ्ठी लिखते थे यह भी एक दम वैसा ही है फर्क बस इतना है की पहले लोग हाथ से कलम के सहारे कॉपी पर लिखते थे

और अब वही Computer और Mobile के जरिये Email पर लिखते है जिसे भेजने में भी आसानी होती है अगर आप यह भी नहीं जानते ही Email कैसे भेजे तो चिंता की कोई बात नहीं क्युकी आने वाले निचे आर्टिकल में आपको यह भी बताया जायेगा की Email कैसे भेजते है

पहले हम जान लेते ही की Email id कैसे बनाये? और Email id बनाने के लिए क्या क्या चाहिए?

Email id बनाने के लिए क्या क्या चाहिए?

वैसे तो Email id बनाने के लिए किसी डाक्यूमेंट्स की जरूरत नहीं पड़ती लेकिन कुछ चीज़ो की जरूरत पड़ती है जैसे Mobile Number Alternate Email (इसकी जरूरत इसलिए पड़ती क्यूंकि जब आप Email या ईमेल का पासवर्ड भूल जाते है तब Alternate Email काम आता है)

इसके बाद आपका पूरा नाम और death Of Birth आपको इन चीज़ो की जरूरत जरूर पड़ेकी क्यूंकि की इनके बिना Email बनाना नामुमकिन है

ये तो समझ गए की Email Id बनाने के लिए किन किन चीज़ो की जरूरत पड़ेगी अब जान लेते है की Email id कैसे बनाये?

Email id कैसे बनाये?

अगर आप Email id बनाना चाहते है तो निचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करे

Step1:- सबसे पहले अपने मोबाइल के Gmail में जाये

Email id क्या है? Email id कैसे बनाये?

Steps2:- उसके बाद राइट कार्नर में क्लिक करे

Email id क्या है? Email id कैसे बनाये?

Steps3:- क्लिक करने बाद आपके सामने आपका ईमेल आ जायेगा अगर आपको दूसरा ईमेल ईद बनाना है तो निचे Add Another account पर क्लिक करे

Email id क्या है? Email id कैसे बनाये?

Steps4:- उसके बाद गूगल पर क्लिक करे

Steps5:- Google पर क्लिक करने के बाद Create Account पर क्लिक करे

Email id क्या है? Email id कैसे बनाये?

Steps6:- फिर For My Self पर क्लिक करे

Steps7:- उसके बाद नेक्स्ट पर क्लिक जैसे ही आप क्लिक करेंगे आपके सामने एक नया पेज आएगा उसमे आपको First name और Last नाम देना है

Email id क्या है? Email id कैसे बनाये?

Steps8:- अब आपको एक Users Name चुनना है याद रहे जो User name आप चुन रहे है कोई और का वही user Name नहीं होना चाहिए

Steps9:- फिर Strong password बनाये password में कुछ अंग्रेजी अक्षर(abc),कुछ चिन्ह (@#$%) तथा कुछ अंक(123) जरुर होने चाहिए) फिर Next पर क्लिक करें.

Steps10:- Next करने के बाद थोड़ा Scroll करने पर निचे Yes. I’m. In पर क्लिक करे

Email id क्या है? Email id कैसे बनाये?

Steps11:- अब अब I Agree पर क्लिक कर दे

इतना करने पर आपका Email id बनाकर तैयार.

Email के फायदे और नुक्सान

यदि आप सोच रहे है की Email से हमें बहुत लाभ होगा और केवल लाभ ही होगा तो आप गलत सोच रहे है क्यूंकि ईमेल का केवल फायदा ही नहीं बल्कि नुक्सान भी है चलिए जानते है इसके फायदे और नुक्सान के बारे सबसे पहले हम फायदे जान लेते है

Email के फायदे

पैसा कम लगना:- अगर आप ईमेल का उपयोग करते है तो आपको किसी भी प्रकार का लगत नहीं लगेगा बस मोबाइल या कंप्यूटर में Internet होना चाहिए

गति:- जब आप डाक मेल का उपयोग करते है तो आपको कई दिनों तक इंतजार करना पड़ जाता है लेकिन इसमें वैसा नहीं है जैसे ही आप किसी  को mail भेजेंगे वैसे ही उसके पास पहोच जायेगा ज्यादा से ज्यादा 1 min का समय लगता

आराम:- इसके होने से हमे और आपको काफी आराम भी है क्यूंकि इसे आप घर बैठे कही से कभी भी कर सकते है लेकिन वही अगर आप डाक से मेल करने जाते है तो आपको घंटो तक लाइन में इंतजार करना पड़ता है

ड्राफ्ट्स:- ईमेल में खासकर यह ऑप्शन बहुत ही अच्छा दिया हुआ है क्यूंकि अगर आप डाक के द्वारा मेल करने जाते है और एक पने पर कलम से लिखते है और किसी कारणवस आपका पाना ख़राब हो जाता है तो

आपको फिर से लिखना पड़ता है लेकिन Email में ऐसा नहीं है क्यूंकि की इसमें अगर आप लिखते है और कसीस कारणवस आपका कंप्यूटर या मोबाइल अचानक बंद हो जाता है तो आपके द्वारा लिखे ये मेल ड्राफ्ट्स में सेव हो जाता है

Email के नुक्सान

संकेत:- Email में मुझे खासकर यह कमी लगी क्यूंकि अगर हम किसी को मेल करते है तो हमें ये समझ नहीं आता की मेल सामने वाला व्यक्ति के पंहुचा या नहीं

जैसे WhatsApp में दिया होता की अगर आप मैसेज करते है और सामने वला व्यक्ति आपका मैसेज देख लेता है तो Blue टिक लग जाता है मुझे लगता वैसे ही Email में भी होना चाहिए जिससे हमें ये समझने में आसानी होगी

बिना मोबाइल और कंप्यूटर के इस्तेमाल नहीं कर सकते:- Email बिना मोबाइल या कंप्यूटर के उपयोग नहीं हो सकता क्यूंकि यह एक सॉफ्टवेयर है जिसे हम देख सकते और इस्तेमाल कर सकते है लेकिन उसे हम छू नई सकते

इंटरनेट:- अगर आपके पास कंप्यूटर और मोबाइल है और आप सोच रहे है की अब मै ईमेल का उपयोग कर सकता हु तो ऐसा नहीं है इसका उप्तोग करने के लिए आपके मोबाइल में या कंप्यूटर में इंटनेट होना चाहिए तभी आप Mail भेज सकते और

वायरस का डर:- जैसा की आपको पता है ईमेल इंटरनेट की जरिये उपयोग होता है इसीलिए कभी कभी वायरस का भी सामना करना पड़ सकता है

Email के इतिहास

Email को संक्षेप में Electronic mail कहते है इसकी शुरुआत सन 1965 में हुई थी यह एक इंटरनेट की सर्विस है ईमेल को Compose करने, भेजने और रिसीव करने की सुविधा यूज़र को ARPANET से पहले ही मिल चुकी थी

इसका पूरा नाम Advanced Research Projects Agency Network होता है यह दुनिया का पहला पैकेट-स्विचन नेटवर्क था यह दुनिया का ऐसा नेटवर्क था जिसमें TCP/IP मॉडल का प्रयोग किया गया था

आपको बता दू ARPANET के कारण ही आगे चलकर Internet की नींव पडी और ज्‍यादा से ज्‍यादा Networks को ARPANET से जोड़ने के लिए सन् 1974 में TCP/IP मॉडल का आविष्‍कार किया गया. Email id कैसे बनाये?

Email का Full Form क्या होता है?

Email का फुल फॉर्म: – Electronic Mail होता है.

Email कैसे भेजते है?

यदि आप मोबाइल से Email भेजना चाहते है तो आपके मोबाइल में email होना चाहिए अगर आपके मोबाइल में Email नहीं है तो आप Google play Store से डाउनलोड कर सकते है अगर आप Email भेजना चाहते है तो निचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करे

  • मोबाइल में जीमेल ऐप खोलें
  •  “+” (Compose) के icon ऊपर क्लिक करें (इसका मतलब है की आप जो लिखना चाहते है Compose में लिखे)
  • अपनी Information डाले
  • उसके बाद ” Send” पर क्लिक करें
  • आपका Email Send हो जायेगा

अपना Email id कैसे पता करे?

अगर आप पहले से अपने मोबाइल या कंप्यूटर में Email Id लॉगिन करके रखे है और आपको नहीं पता की Email कहाँ से देखे तो क्यूंकि कभी कभी हमें अपनी Email की जरूरत पड़ती रहती है

वैसे ईमेल तो पता भी रहता लेकिन Spelling सही है या गलत इसका सक बना रहता है इसलिए जान लेते है अपना Email कैसे पता करे?

अपना Email id जानने के लिए निचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करे

  • सबसे पहेले आप मोबाइल मे Gmail एप्प खोले।
  • अब आपको Gmail एप्प मे ऊपर की ओर प्रोफ़ाइल का आईकोन दिखाई देगा उस पे क्लिक करे।
  • अब आपके सामने आपकी ईमेल आईडी दिख जाएगी।

Email कितने प्रकार के होते है?

Email मुख्या रूप से 2 प्रकार के होते है जो इस प्रकार है

  1. वेब आधारित ई मेल (Web Based Email).
  2. पॉप आधारित ई मेल (Pop Based E mail).

Email को हिंदी में क्या कहते है?

वैसे तो Email ईमेल के ही नाम स प्रचलित है लेकिन कुछ लोग इस हिंदी में इलेक्ट्रोनिक डाक या ईडाक भी कहते है। Email id कैसे बनाये?

Email के जनक कौन है?

Email का जनक Ray Tomlinson को मन जाता है

सबसे पहला Email कब भेजा गया था?

सबसे पहला Email सन् 1971 में अमेरिका के कैंब्रिज नामक स्थान पर रे टॉमलिंसन नामक इंजीनियर ने एक ही कमरे में रखे दो कंप्यूटरों के बीच भेजा था

आपने क्या सीखा

अब मुझे उम्मीद है की अब आप ये समझ गए होंगे की Email id क्या है? Email id कैसे बनाये? Email के फायदे और नुक्सान, Email कैसे भेजते है?

और बाकि सारे सवालों का जबाब आपको मिल गया होगा अगर कोई और सवाल रह गया होतो आप निचे comment लिख सकते है,

मेरा आप सब से गुजारिस है की आप लोग भी इस जानकारी को अपने आस-पड़ोस, रिश्तेदारों, अपने मित्रों में Share करें, ताकि इससे किसी की मदद हो सके

यदि आपके मन में इस Article को लेकर कोई भी प्रकार का doubts हैं या आप चाहते हैं की इस आर्टिकल में कुछ सुधार होनी चाहिए या इसके बारे में और लिखा जा सकता है तो आप नीच Comments लिख सकते हैं.

धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published.